हैदराबाद में अमित शाह की सुरक्षा में चूक:गृह मंत्री के काफिले के आगे TRS नेता ने लगाई कार, फिर कहा- गलती से रुकी थी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की सुरक्षा में चूक हुई है। शनिवार को हैदराबाद में उनके काफिले के आगे TRS नेता ने अपनी कार लगा दी। हालांकि, गृह मंत्री के सुरक्षाकर्मियों ने इसे तुरंत हटवा दिया। TRS नेता की पहचान गोसुला श्रीनिवास के रूप में हुई है।

घटना के बाद श्रीनिवास ने कहा कि कार काफिले के आगे अचानक रुक गई थी। जब तक मैं कुछ समझ पाता, तब तक गृह मंत्री के सुरक्षाकर्मियों ने उसमें तोड़फोड़ की। मैं पुलिस अधिकारी से मिलूंगा और कार्रवाई करने के लिए कहूंगा।

13 दिन में सुरक्षा चूक का दूसरा मामला
13 दिन के भीतर अमित शाह की सुरक्षा में चूक का यह दूसरा मामला है। इससे पहले 4-5 सितंबर को महाराष्ट्र दौरे पर भी शाह की सुरक्षा में चूक हुई थी। शाह के मुंबई दौरे पर एक संदिग्ध उनके इर्द-गिर्द कई घंटों तक घूमता रहा था। जब अधिकारियों को शक हुआ तो उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने उसे 2-3 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया।

हैदराबाद मुक्ति दिवस में भाग लेने पहुंचे शाह
अमित शाह हैदराबाद मुक्ति दिवस में भाग लेने के लिए तेलंगाना दौरे पर हैं। उन्होंने पहले दिन सिकंदराबाद आर्मी मैदान में रैली को संबोधित किया। शाह ने TRS पर निशाना साधते हुए कहा- भारत को तो आजादी 1947 में मिल गई थी, लेकिन हैदराबाद पर आज भी निजामों का राज है।

ब्रीफकेस बैलिस्टिक शील्ड कवर के साथ Z+ सिक्योरिटी
2019 में शाह के गृह मंत्री बनने के बाद उनकी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई थी। शाह को Z+ सिक्योरिटी के साथ-साथ ब्रीफकेस बैलिस्टिक शील्ड का भी कवर दिया गया था। ये एक पोर्टेबल बुलेट प्रूफ शील्ड या पोर्टेबल फोल्ड आउट बैलिस्टिक शील्ड होती है, जिसे हमले के दौरान खोला जा सकता है। Z+ सिक्योरिटी के तहत शाह के साथ 24 से 30 कमांडो हर वक्त होते हैं।

Leave a Comment