अमित शाह मिशन पूर्वांचल, 3 दिन के दौरे पर 12 नवंबर को पहुंचेंगे काशी, संगठन की टटोलेंगे नब्ज़, अखिलेश को देंगे चुनौती

Amit Shah Ka UP Daura: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में जीत की हैट्रिक लगा चुके गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने अब चौथी जीत के लिए कसरत शुरू कर दी है। 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले अमित शाह एक बार फिर यूपी में डेरा डाल चुके हैं। लखनऊ दौरे के बाद अब वह 12 नवम्बर को तीन दिवसीय पूर्वांचल दौरे (amit shah ka Purvanchal daura) पर आएंगे। 12 नवंबर को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचेंगे। यहां सीएम योगी बीजेपी अध्यक्षों के साथ मिलकर 8 बैठकें करेंगे । इसके बाद 13 नवंबर को वह सपा के गढ़ अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में हुंकार भरेंगे। अमित शाह आजमगढ़ में एक विशाल रैली को संबोधित कर फिर काशी वापस आएंगे और यहां कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे।

अमित शाह का पूरा कार्यक्रम

12 नवम्बर को दोपहर में वाराणसी पहुंचेंगे।

गृह मंत्री अमित शाह 6 घंटे में 8 बैठकें करके संगठन की पेंच कसेंगे।

उनके साथ सीएम योगी भी रहेंगे मौजूद।

अमित शाह के साथ धर्मेंद्र प्रधान और उनकी पूरी टीम भी मौजूद रहेगी।

काशी क्षेत्र के 71 विधानसभाओं के पदाधिकारी और विधायक अपने कामकाज के ब्यौरा देंगे।

13 नवम्बर अगले दिन राजभाषा विभाग गृह मंत्रालय की ओर से हस्तकला संकुल में संवैधानिक दायित्वों के अंतर्गत केंद्र सरकार के कार्यालयों, विभागों, बैंकों में हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे।

13 नवम्बर को दोपहर में आजमगढ़ में अमित शाह रैली को सम्बोधित करेंगे। वह यहां गोरखपुर क्षेत्र की बैठक लेंगे।

आजमगढ़ (Azamgarh) से लौटने के बाद अमित शाह बीजेपी पदाधिकारियों की बैठक लेंगे और 14 नवंबर को वह संगठन और चुनाव तैयारियों का जायजा लेने के बाद दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

काशी क्षेत्र में मिशन 65 का लक्ष्य

गौरतलब है कि बीजेपी (BJP News) का पूरा फोकस पूर्वांचल पर ज्यादा है। वह पूर्वांचल को जोन में बांटकर इस क्षेत्र में कमल खिलाने की योजना बना रही है। इसके तहत इस बार काशी क्षेत्र की 71 सीटों में बीजेपी ने मिशन 65 तय किया है। बता दें 2017 के चुनाव में अमित शाह की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी ने यहां 71 में से 55 सीटों पर फतह हासिल की थी। अब इसी जीत को एक कदम आगे बढाकर मिशन 65 को हासिल करने की तैयारी शाह से शुरू कर दी है। अमित शाह अपने दौरे के दौरान काशी, गोरखपुर क्षेत्र की एक-एक सीट का पर मंथन करेंगे और मिले फीडबैक के आधार पर 2022 के लिए टिकट भी फाइनल करेंगे।

Leave a Comment