अमित शाह ने किया बड़ा एलानः 2024 में मोदी को पीएम बनाना है तो 2022 में योगी को सीएम बनाना होगा, लगाया अटकलों पर विराम

UP Election 2022: केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने आज यहां बड़ा एलान करते हुए कहा है कि अगर 2024 में मोदी को फिर से पीएम बनाना है तो 2022 में योगी को फिर से सीएम बनाना होगा। शाह की इस बात को राजनीतिक हल्कों में बहुत बड़ा एलान माना जा रहा है। शाह के स्पष्ट रूप से किये गए इस एलान से चुनाव के बाद मुख्यमंत्री कौन होगा इन सब बातों पर विराम लग गया है। कार्यकर्ता ओं को स्पष्ट संदेश मिल गया है कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चुनाव के लिए मजबूती से जुट जाएं।

अमित शाह ने साफ शब्दों में कहा कि केन्द्र में अगर वर्ष 2024 में नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाना है तो 2022 में एक बार फिर से योगी आदित्यनाथ जी को मुख्यमंत्री बनाना होगा। शाह ने कहा कि मोदी और योगी सरकार ने (modi yogi sarkar) देश में बहुत बड़ा परिवर्तन लाने का काम किया है। किसी को कल्पना नहीं थी कि राम मंदिर बनेगा। इसके लिए दो तिहाई बहुमत की सरकार की सबसे बडी ताकत यूपी ही रहा है। इसलिए एक बार फिर यूपी में 300 सीटों को लेकर कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव (up vidhan sabha chunav 2022) में जुटना है। उन्होंने कहा कि जनता 2022 में फिर से मौका दें तभी 2024 में केंद्र में मोदी सरकार बन सकेगी।

अमित शाह ने कहा कि पिछली सपा और बसपा सरकारों के कामकाज को जनता अब तक भूली नहीं है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पलायन होता था, आज पलायन करवाने वालों का ही पलायन हो गया है। अब बाहुबली प्रदेश से गायब हो गए हैं। उन्होंने कहा कि यह पार्टियां परिवारवादी पार्टियां हैं यह जनता का भला कभी नहीं कर सकती हैं। भाजपा के अवध क्षेत्र में सदस्यता अभियान की शुरुआत करने के लिए लखनऊ पहुंचे केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि मोदी सरकार ने हर घर में गैस बिजली और घर देने का काम किया है। देश के 60 करोड गरीबों को स्वास्थ्य का पूरा खर्च मोदी और योगी सरकार दे रही है। अब हर घर में नल पहुंचाने की योजना है वो भी जल्द पूरी हो जाएगी।

पहले पता नहीं था कि यूपी महापुरूषों की जन्म भूमि है

अमित शाह ने कहा कि यह राम कृष्ण और शिव की भूमि है। उन्होंने कहा कि न जाने कितने महापुरूषों की जन्म भूमि है पर भाजपा की सरकार के पहले किसी को इस बात का अहसास नहीं था कि यह कितनी महत्वपूर्ण भूमि हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने यूपी को देश का सबसे प्रमुख राज्य बनाने में अपनी भूमिका निभाई है। भारतीय जनता पार्टी ने अहसास करा दिया कि सरकारें परिवारों के लिए नहीं होती हैं बल्कि गरीबों के लिए होती है। अमित षाह ने कहा कि जो लोग हमसे हिसाब मांग रहे हैं उसका हिसाब तो योगी जी दे सकते हैं लेकिन अखिलेश यादव ये बताएं कि जब कोरोना हुआ तो वह वहां कहा रहे और कितने दिन विदेश में रहे।

2014 में परिवर्तन की शुरुआत हुई

अमित शाह ने कहा कि 2014 में परिवर्तन की शुरुआत हुई जिसमें मै यूपी प्रभारी था और फिर 2017 के विधानसभा चुनाव और फिर 2019 में राष्ट्रीय अध्यक्ष था। इस बार सदस्यता अभियान शुरू करने आया हूं। अमित शाह ने कहा कि भाजपा के लिए चुनाव सत्ता के लिए नहीं बल्कि लोगों से सम्पर्क करने का माध्यम हैं। केन्द्रीय गृहमंत्री ने कहा कि 86 लाख कार्यकर्ता अलग अलग क्षेत्र में काम कर रहे हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आहवान किया कि ऐसा कोई घर न बचें जहां मेरा परिवार भाजपा परिवार की पट्टी न लगी हो।

घोषणा पत्र का 90 प्रतिशत काम पूरा हुआ

अमित शाह ने कहा कि हमारे यहां घोषणा पत्र सर्वे एजेन्सियां नहीं बनाती है, बल्कि कार्यकर्ता घर घर जाकर सर्वे करते हैं तब बनाया जाता है। पिछली बार के घोषणा पत्र को योगी सरकार ने 90 प्रतिशत पूरा कर लिया और अभी दो महीने में बाकी घोषणाओं को भी पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता इस सदस्यता अभियान के जरिए घर घर जाकर लोगों को जागरूक बनाने का काम करें। यह अभियान जागरूकता और चेतना अभियान है। कोरोना काल में योगी सरकार ने बेहतरीन काम किया केन्द्रीय गृह मंत्री ने देश के सबसे बडे सूबे में हुए कोरोना संकट से निबटने के लिए प्रदेश की योगी सरकार की सराहना की और कहा कि यह तभी संभव हो पाया जब जातिवाद छोडकर विकास के रास्ते पर चलना है। यह भी कहा कि इससे भी बडा काम अपराधियों से मुक्त करने का काम योगी सरकार ने किया है।

Leave a Comment