ताहिर हुसैन को आम आदमी पार्टी ने किया सस्पेंड, हिंसा फैलाने का केस दर्ज

    21

    New Delhi/Atulya Loktantra : दिल्ली के करावल नगर में हिंसा का आरोप पार्षद ताहिर हुसैन पर लगा है. इस आरोप के बाद ताहिर हुसैन को आम आदमी पार्टी ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है. उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है. इसके साथ ही दयालपुर पुलिस थाने में हुसैन के खिलाफ धारा 302 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है

    आम आदमी पार्टी ने अपने पार्षद ताहिर हुसैन को पार्टी से निलंबित कर दिया है. ताहिर पर आरोप था कि उन्होंने हिंसा भड़काई है, उनके घर का उपद्रवियों ने इस्तेमाल किया. दबाव बढ़ा तो पार्टी ने एक्शन लिया और पुलिस ने भी अंकित शर्मा के कत्ल के आरोप में एफआईआर दर्ज कर ली है. सवाल है कि पुलिस क्या ताहिर हुसैन को गिरफ्तार भी करेगी.

    आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के घर से पत्थरबाजी, पेट्रोल बम फेंकने और छत पर मौजूद दर्जनों उपद्रवियों की तस्वीर जब वायरल हुई तो बवाल मच गया. शुरू में तो आप नेता ने आरोपों से इंकार करते हुए खुद को प्रताड़ित साबित करने की कोशिश की, लेकिन अब ना सिर्फ पुलिस ने ताहिर हुसैन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है बल्कि आप ने भी पार्टी से निलंबित यानी सस्पेंड कर दिया है.

    ताहिर हुसैन की फैक्ट्री सील
    इंटीलेंस ब्यूरो (आईबी) के युवा अफसर अंकित शर्मा के पिता की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने ताहिर हुसैन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है और मर्डर के आरोप में आईपीसी की धारा 302, 201, 365, 34 के तहत केस दाखिल हुआ है. वायरल विडियो में उपद्रवियों के साथ दिखने वाले ताहिर हुसैन की पहले फैक्ट्री सील की गई, कुछ घंटों में हत्या का केस दर्ज हुआ और बाद में जांच पूरी होने तक आप ने प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया.

    कब्जे में चार मंजिला इमारत भी
    उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाके खजूरी खास में ताहिर हुसैन की फैक्ट्री को पुलिस ने सील कर दिया है. खजूरी खास के जिस इलाके में ताहिर खान की 4 मंजिला इमारत को पुलिस ने अपने कब्जे में लिया है, उस इमारत की हर मंजिल पर तबाही, बर्बादी और बवाल मचाने का पूरा जखीरा हाथ लगा है. कहीं पेट्रोल बम, कहीं पत्थर के टुकड़े, कई तेजाब के पाउच तो कहीं पत्थर को बरसाने के लिए गुलेल.

    केजरीवाल बोले- दोषी पर हो कार्रवाई
    ताहिर हुसैन पर बढ़ते दबाव का असर आम आदमी पार्टी पर भी दिखा. हिंसा में ताहिर की हिस्सेदारी होने का इशारा करता वीडियो जब वायरल हुआ तो सीएम अरविंद केजरीवाल को भी कहना पड़ा कि अगर मेरी पार्टी का नेता दोषी पाया गया है तो उसे दोगुनी सजा दी जाए. राष्ट्रीय सुरक्षा के मसले पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए, सख्त से सख्त एक्शन होना चाहिए.

    ताहिर ने किया आरोपों को खारिज
    हालांकि, पार्षद ताहिर हुसैन ने सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि अंकित की मौत से दुखी हूं. अंकित के परिवार के साथ हूं. दंगाई किसी के नहीं होते. मुझे नहीं पता मेरे घर की छत से कौन पेट्रोल बम और पत्थर फेंक रहा था. मेरे घर का दुरुपयोग किया गया. बाद में पुलिस भी वहां पहुंच गई थी. पुलिस की मौजूदगी बुधवार चार बजे तक थी, इसके बाद मुझे सूचना मिली कि पुलिस बल अब कम होता जा रहा है.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here