74th Indian Army Day: सेना दिवस पर नई वर्दी का हुआ अनावरण, जानिए इस वर्दी की खासियत

74th Indian Army Day: 74वें सेना दिवस के मौके पर भारतीय सेना ने शनिवार को पहली बार सार्वजनिक रूप से अपनी नई लड़ाकू वर्दी का अनावरण किया, क्योंकि नई वर्दी में पैराशूट रेजिमेंट के कमांडो ने सेना दिवस पर दिल्ली कैंट के परेड ग्राउंड में मार्च किया। इस मौके पर थलसेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे (Army Chief General MM Naravane) ने आर्मी परेड को सलामी दी।

दरअसल, दिसंबर 2021 में यह बताया गया था कि सेना 2022 के सेना दिवस परेड में अपनी नई युद्धक वर्दी का प्रदर्शन करेगी। नई वर्दी, जो बल के दशकों पुराने लड़ाकू वस्त्रों की जगह लेती है, में एक डिजिटल छलावरण पैटर्न है, जो ब्रिटिश सेना द्वारा उपयोग किए जाने वाले समान है। इसे इसी साल अगस्त तक भारतीय सेना में पेश किए जाने की संभावना है। सेना के लगभग 13 लाख सैनिकों के लिए वर्दी बनेगी।

भारतीय सेना की वर्दी की खासियत

  • भारतीय सेना ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन एंड टेक्नोलॉजी (निफ्ट) की मदद से अपनी नई लड़ाकू वर्दी विकसित की है।
  • नई वर्दी का डिजिटल विघटनकारी पैटर्न सेना के जवानों को बढ़े हुए फील्ड छलावरण प्रदान करेगा।
  • सेना की नई लड़ाकू वर्दी का कपड़ा मजबूत और हल्का है।
  • सेना की नई लड़ाकू वर्दी अधिक टिकाऊ और आरामदायक होगी।
  • नई लड़ाकू वर्दी अधिक जलवायु के अनुकूल है और विभिन्न प्रकार के इलाकों के लिए उपयुक्त है जिसमें भारतीय सेना के जवान काम करते हैं
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि नई लड़ाकू वर्दी को महिलाओं के लिए और अधिक आरामदायक बनाने के लिए कुछ संशोधन किए गए हैं।
  • नई वर्दी 13 अलग-अलग साइज में मिलेगी औऱ फैब्रिक में कॉटन और पॉलिएस्टर का 70:30 का अनुपात होगा।
  • भारतीय सेना के जवानों ने प्रतिकूल और साथ ही विविध परिस्थितियों में देश की सेवा की है। उन्होंने प्राकृतिक आपदाओं के दौरान नागरिक अधिकारियों को सहायता प्रदान करने के अलावा देश की आंतरिक सुरक्षा को बनाए रखने और आतंकवादी और बाहरी खतरों को बेअसर करने के लिए विश्वसनीय कार्रवाई की है। सेना राष्ट्र की सुरक्षा के लिए उच्च तत्परता रखती है।

Leave a Comment