हरियाणा में बंद होंगे 1057 मिडिल व प्राइमरी स्‍कूल!

12

चंडीगढ: हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र में आज सरकार ने बड़ी घोषणा की। राज्‍य में 1057 प्राइमरी और मिडिल स्‍कूल बंंद किए जाएंगे। राज्‍य में 25 से कम छात्रों वाले 743 प्राथमिक स्कूल नए शैक्षिक सत्र में बंद होंगे। इसके साथ ही कम विद्यार्थियों वाले 314 मिडिल स्‍कूलों काे भी आसपास के विद्यालयों में समायोजित किया जाएगा।

विधानसभा में सरकार की ओर से बताया गया कि राज्‍य में 25 से कम विद्यार्थी वाले प्राइमरी स्‍कूलों को बंद किया जाएगा। राज्‍य में अगले शैक्षिक सत्र से ऐसे 743 स्‍कूलों को बंद कर दिए जाएगा। इन स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को एक किलोमीटर के दायरे में संचालित दूसरे राजकीय प्राथमिक स्कूलों में शिफ्ट किया जाएगा। इसके साथ ही इन स्कूलों में तैनात 1304 जेबीटी शिक्षकों को दूसरे स्कूलों में स्‍थानांतरति किया जाएगा।

विधानसभा में बताया गया कि प्रदेश में 91 स्कूल ऐसे हैं जिनमें पांच से कम विद्यार्थी हैं। राज्‍य में 120 स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या दस से भी कम है। इसके अलावा 204 स्कूलों में 15, 180 स्कूलों में 20 और 148 स्कूलों में 25 से कम विद्यार्थी हैं। इसके साथ ही राज्‍य के 314 मिडिल स्कूलों को भी आसपास के स्कूलों में समायोजित किया जाएगा।

गुरुग्राम और फरीदाबाद नगर निगमों का होगा स्‍पेशल ऑडिट

गुरुग्राम और फरीदाबाद नगर निगमों का स्पेशल ऑडिट होगा। हरियाणा विधानसभा में राज्य के गृह, स्‍वास्‍थ्‍य और शहरी निकाय मंत्री अनिल विज ने की यह घोषणा की। अनिल विज ने बताया कि उन्‍होंने राज्‍य के ऑडिटर जनरल को गुरुग्राम और फरीदाबाद नगर निगमों का ऑडिट कराने के लिए चिट्ठी लिखी थी। ऑडिटर जनरल ने इस पर उन्होंने मुहर लगा दी है।

विधानसभा में कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद नगर निगम में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया । इसके जवाब में अनिल विज ने माना कि गुरुग्राम और फरीदाबाद में अनियमितताओं की काफी शिकायतें सरकार को मिली हैं। इसके चलते दोनों नगर निगमों का स्पेशल ऑडिट कराया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here