टाइफाइड के मरीज इन पांच चीजों के सेवन से जल्दी हो सकते है ठीक, पढ़िए रिपोर्ट

0

New Delhi/Atulya Loktantra News: टाइफाइड बुखार साल्मोनेला टाइफी नामक बैक्टीरिया के संक्रमण से होता है। इस बीमारी से शरीर में खून की कमी होने लगती है। जिससे हमारा इम्यून सिस्टम और लिवर ठीक से काम करना बंद कर देता है। तेज बुखार से इंसान का बदन तपने लगता है कमजोरी महसूस होने के साथ साथ कई बार डायरिया जैसी दिक्कतें भी होती हैं। टाइफाइड में डॉक्टर मरीज को खास डाइट फॉलो करने की सलाह देते हैं। टाइफाइड बुखार में खाये जाने वाली चीजों के विषय में बता रहे है। जो कि टाइफाइड रिकवरी में सहायक है।

कार्बोहाइड्रेट वाली चीजें : टाइफाइड बुखार में ज्यादा कार्बोहाइड्रेट वाली चीजें खाने से भी शरीर को बहुत फायदा हो है। हालांकि एक बात का ध्यान रखें कि आप जो भी चीजें खा रहे हैं, उन्हें पचाने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। उबले हुए आलू या उबले हुए चावल इसमें फायदा दे सकते हैं।

तरल पदार्थों का सेवन :
टाइफाइड में प्यास न लगने की वजह से रोगी डीहाइड्रेशन का शिकार हो सकता है। जिससे दस्त या डायरिया जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। इस खतरे से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ लें। रोजाना कम से कम 8 ग्लास पानी पीएं। नारियल पानी इस बीमारी में बेहद फायदेमंद माना जाता है।

मुनक्का :
टाइफाइड बुखार से राहत पाने के लिए मुनक्का बेहतरीन चीज है। इसे यूनानी औषधी के रूप में भी देखा जाता है। मुनक्का में सेंघा नमक मिलाकर या उसे तवे पर भूनकर खाने से टाइफाइड का बुखार कम हो जाता है। तेज बुखार चढ़ने पर आप 4-5 मुनक्का भूनकर खा सकते हैं।

डेयरी प्रोडक्ट : टाइफाइड बुखार में मरीज काफी कमजोरी महसूस करता है। ऐसे में शरीर को ताकत की जरूरत होती है और इसके लिए डेयरी प्रोडक्ट काफी फायदेमंद साबित होते हैं। शरीर को एनेर्जी देने के लिए आप यॉगर्ट जैसे डेयरी प्रोडक्ट का सेवन कर सकते हैं।

हाई कैलोरी फूड:
टाइफाइड बुखार में डॉक्टर रोगी को हाई कैलोरी वाला फूड खाने की सलाह देते हैं। इस बुखार में इंसान का शरीर कमजोर हो जाता है और धीरे-धीरे उसका वजन भी घटने लगता है। ऐसे में ज्यादा कैलोरी वाली चीजें शरीर को ताकत देने का काम करती हैं। आप केला, शकरकंद और पीनट बटर जैसी चीजें खा सकते हैं।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here