एनआईटी की जनता पूछे सवाल, कब तक रहेगी ये सड़क बदहाल,

0

Faridabad/Atulya Loktantra: चुनावों के समय में भारतीय नेता जनता के सामने हाथ जोड़े नजर आते है और वही चुनावों के बाद जनता नेताओं के सामने हाथ जोड़े दिखती है फर्क बस यही होता है कि नेता कुर्सी के लिए जनता के सामने झुकते है और जनता अपनी समस्याओं के लिए नेताओं के सामने झुकती है।

ऐसा ही कुछ आज फरीदाबाद में देखने को मिला जहां प्याली- हार्डवेयर सड़क की मरम्मत के लिए प्रदर्शन कर रहे अभिषेक गोस्वामी के साथ हुआ। अभिषेक गोस्वामी आज फरीदाबाद के सांसद कृष्णपाल गुर्जर के सामने अपनी समस्या लेकर पहुंचे जहां सांसद साहब मिलने की बजाय उन्हें चकमा देकर चलते बने।

दरअसल, प्याली- हार्डवेयर सड़क की मरम्मत के लिए एनआईटी के निवासी अभिषेक गोस्वामी एक अलग तरीके का प्रदर्शन कर रहे है, जहां वह अपने कपडे उतारकर अर्धनग्न अवस्था में नगर निगम के नकारापन का विरोध कर रहे है। अभिषेक गोस्वामी एक बहुत ही साधारण से व्यक्ति है और फरीदाबाद रत्न से सम्मानित हो चुके है।

अभिषेक गोस्वामी प्याली- हार्डवेयर सड़क की मरम्मत के लिए जिले भर के सभी विधायक और सांसद के कार्यालय या घर के सामने जाकर उनसे सड़क की मरम्मत के लिए गुहार लगा रहे है। बीते दिन उन्होंने हार्डवेयर पर अर्धनग्न अवस्था में खड़े होकर अपना प्रदर्शन किया।

आज उन्होंने सांसद कृष्णपाल गुर्जर के घर के सामने जाकर अपना प्रदर्शन करने की योजना बनाई थी, परन्तु सांसद के घर पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें जबरदस्ती कपडे पहनवाए और कहा कि सांसद जी आएंगे तो मिल लेना परन्तु सांसद जी मिलने के बजाय उन्हें चकमा देकर चलते बने, जिसके बाद उन्होंने परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा के कार्यालय जाकर अपना प्रदर्शन किया जहां उन्हें आश्वासन देने मूलचंद शर्मा के भाई टीपरचंद शर्मा आए।

आपको बता दें कि यह सड़क काफी समय से टूटी पड़ी है। यहां आए दिन कोई- न- कोई हादसा होता रहता है। अभी हाल ही में एक इंजीनियर की यहां पड़े गड्ढों की वजह से मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने कई बार इस सड़क की शिकायत नगर निगम से लेकर पार्षद- विधायक तक को की परन्तु अभी तक भी कोई समाधान नही निकल पाया है। बारिश के दिनों में तो हालात बद से बदतर हो जाते है। एक साधारण व्यक्ति के प्रदर्शन को देखकर एनआईटी की जनता के साथ- साथ समाजसेवी और सामाजिक संस्थाएं अभी भी नही जागी तो नगर निगम के भ्रष्ट अधिकारी और राजनेता इस शहर को खा जायेगा।

ऐसे में देखना होगा कि नगर निगम और स्थानीय नेता इस सड़क की मरम्मत करवा पाते है या फिर अन्य विरोध प्रदर्शन की तरह इस प्रदर्शन की भी आवाज अनसुनी कर दी जायेगी।

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें