राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस पर छात्रों को किया जागरूक

0

Faridabad/Atulyloktantra  News : सराय ख्वाजा स्थित जूनियर रेड क्रॉस तथा सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड अधिकारी रविंदर कुमार मनचंदा ने राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस के उपलक्ष्य में प्राचार्या कौशिक की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन किया। उन्होंने बच्चों को बताया कि हमारे देश में में 24 दिसम्बर को राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस के रूप में मनाया जाता है। 1986 में इसी दिन उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम पारित हुआ था।

इसके बाद इस अधिनियम में विभिन्न संशोधन किये गए। उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम को अधिकाधिक कार्यरत और प्रयोजनपूर्ण बनाने के लिए दिसम्बर 2002 में एक व्यापक संशोधन लाया गया और फिर इस अधिनियम को 15 मार्च 2003 से लागू किया गया। विश्व स्तर पर 15 मार्च को प्रत्येक वर्ष विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस के रूप में मनाया जाता हैं।

AdERP School Management Software

लेकिन भारत वर्ष में 24 दिसंबर 2000 से ही राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस मनाया जा रहा है इस दिवस के अवसर पर हम सभी उपभोक्ताओं को उनके अधिकारों के संबंध में जागरुक कर सकते है, परिणामस्वरूप उपभोक्ता संरक्षण नियम की अनुपालना हेतु भारत सरकार ने यह दिवस घोषित किया है, क्योंकि 24 दिसंबर को ही भारत के राष्ट्रपति महोदय ने इस अधिनियम को हस्ताक्षर करके पास किया था भारत के राष्ट्रपति ने इसी दिन ऐतिहासिक उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 1986 के अधिनियम को स्वीकारा था। इसके अतिरिक्त यह दिन भारतीय ग्राहक आन्दोलन के इतिहास में सुनहरे अक्षरो में लिखा गया है। भारत में यह दिवस आम ग्राहकों व् उपभोक्ताओं को उन के अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए मनाया जाता है और उन के हितों की सुरक्षा के लिए बनाये गए कानूनों की जानकारी भी प्रदान करता है।

महात्मा गांधी ने भी कहा कि हम किसी को कोई भी वस्तु या सेवा देकर कदापि न समझे कि हम उसकी सेवा कर रहे हैं बल्कि वह हमारी वस्तुओं और सेवाओं को खरीद करके हमें सेवा प्रदान करने का अवसर दे रहा है दरअसल हम किसी न किसी रूप में निश्चित रूप से उपभोक्ता है लेकिन देश में उपभोक्ताओं के संबंध में उनके अधिकारों के संबंध में कोई कानून नहीं था जिससे परेशानियों का सामना करना पड़ता था लेकिन उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम लागू हो जाने से इस स्थिति से निपटारा आसानी से हो रहा है रविन्दर कुमार मनचंदा ने बताया कि जूनियर रेड क्रॉस के सदस्यों ने सुंदर पेंटिंग बना कर सभी को जागरूक उपभोक्ता बनने केलिए प्रेरित किया। प्राचार्या नीलम कौशिक, इंग्लिश प्रवक्ता रविंदर कुमार, रेनू शर्मा और अर्थशास्त्र प्रवक्ता शारदा ने बच्चों से इस जानकारी की चर्चा अपने घर के सभी सदस्यों से करने की भी अपील की।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here