जानिए, अधिकारी के रवैये से पार्षद क्यों हैं परेशान

Faridabad/Atulya Loktantra : नगर निगम सदन की सोमवार को आयोजित बैठक में कमिश्नर मोहम्मद साइन की उपस्थिति में कुल 59 मद रखे गए। सभी मदों पर बारी-बारी से चर्चा की गई। इस बीच वार्ड-15 के पार्षद संदीप भारद्वाज ने अधिकारियों की लापरवाही और उनके भ्रष्ट रवैये से परेशान होकर सदन में अपनी बात रखी।

उन्होंने कहा कि सदन में अपना मद रखकर कोई फायदा उन्हे नजर नहीं आता है क्योंकि काम तो होना नहीं है। वार्ड की 24000 जनता के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, क्योंकि अधिकारी है जो सुनने को तैयार नहीं है। भ्रष्ट अधिकारी सीट पर बैठाए गए हैं, जिनकी पहले भी 50 से ज्यादा शिकायतें की जा चुकी है लेकिन अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया गया है।

उन्होंने बताया कि अधिकारी ना तो फोन उठाते हैं ना ही बात करने को तैयार है, बल्कि उन्होंने पार्षद का नंबर ही ब्लैक लिस्ट में डाला हुआ है। संदीप का कहना है कि यह मेरी नहीं बल्कि हर पार्षद की तौहीन है। जिस पर सभी पार्षदो ने अपनी सहमति जताई।

उन्होंने कहा कि कोई फोन उठाइए ना उठाए लेकिन मोबाइल नंबर को ब्लैक लिस्ट में डालना सबसे बड़ा जुर्म है। मेरी जनता के साथ धोखा हो रहा है। सदन में संदीप भारद्वाज ने कहा कि करदम अधिकारी उन्होंने पहले भी कई बार शिकायतें की हुई है लेकिन अभी तक उन पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है। उनका कहना है कि या तो इन अधिकारियों की शिकायत ना करो या इनके नीचे दबकर इनकी जी हजूरी करते रहो, शिकायत करोगे तो यह हमारे नंबर को ब्लैक लिस्ट में डाल देंगे और सुनवाई कहीं होने वाली नहीं है।

इस पर आयुक्त महोदय ने एक्शन लेते हुए कहा कि वार्ड-15 के मौजूदा अधिकारी को हटाकर किसी और अधिकारी को वहां रखा जाए। जिस पर पार्षद संदीप भारद्वाज ने उचित कार्यवाही की मांग की है और कहा कि मेरी जनता के साथ इंसाफ किया जाए।

Leave a Comment