भारतीय कंपनियों पर एक बार फिर विदेशी कंपनियां की नजर

0

New Delhi/Atulya Loktantra : भारतीय कंपनियों पर एक बार फिर विदेशी कंपनियां की नजर पड़ रही है। तभी तो दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के सीईओ और दुनिया के सबसे अमीर शख्‍स जेफ बेजोस भारत के बिग बाजार पर अपनी नजर डाल रहे हैं। बिग बाजार, एफबीबी, फूड बाजार, ईजी डे, होमटाउन समेत कई रिटेल चेन और ब्रांड फ्यूचर ग्रुप के तहत आते हैं। फ्यूचर ग्रुप का मार्केट वैल्‍यू 26 हजार करोड़ से भी ज्‍यादा है।

वॉलमार्ट द्वारा Flipkart का अधिग्रहण करने के बाद अमेजन और फ्यूचर ग्रुप के बीच यह समझौता काफी अहम माना जा रहा है। हालांकि अमेजन कंपनी फॉरेन पोर्टफोलियो इंवेस्‍टर रूट के तहत फ्यूचर ग्रुप में सिर्फ 9.5 प्रतिशत स्‍टेक खरीदने की तैयारी में हैं। उम्‍मीद है कि दोनों कंपनियां जल्‍द ही इस एग्रीमेंट को फाइनल कर देंगी और दिसंबर में इसकी घोषणा कर दी जाएगी।

इसके बाद भविष्‍य में अमेजन FRL का टेकओवर करने के बारे में भी सोच सकती है। बता दें फ्यूचर ग्रुप की मार्केट वैल्‍यू 26,648.69 करोड़ रुपए है। इस साल जुलाई से सितंबर के बीच कंपनी ने 4,928.69 करोड़ रुपए का कारोबार किया है और इसमें नेट प्रॉफिट 175.10 करोड़ रुपए रहा है।

एफएमसीजी फूड, फैशन और फुटवियर में कंपनी के 80 ब्रॉडंस हैं और कंपनी की 50 प्रतिशत सेल्‍स रिटेल नेटवर्क से होती है। अरुणांचल प्रदेश को छोड़कर देश के 355 शहरों में फ्यूचर ग्रुप के 1,123 स्‍टोर्स हैं।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here