घरेलू कुकिंग गैस की कीमतों में कमी के चलते लोगों को बड़ी राहत

0

New Delhi/Atulya Loktantra : घरेलू कुकिंग गैस (एलपीजी ) की कीमतों में कमी के चलते आम लोगों को बड़ी राहत मिली है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में ईंधन के दामों में कमी के असर से शुक्रवार को एलपीजी के दाम 6.52 रुपये प्रति सिलेंडर कम हुए हैं. जबकि, बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर के दाम 133 रुपये कम हुए हैं.

देश की सबसे बड़ी फ्यूल रिटेलर कंपनी, इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन के मुताबिक, अब सब्स‍िडी में मिलने वाले 14.2 किलो वजनी सिलेंडर के लिए एनसीआर (नेशनल केपिटल रीजन) में 500.90 चुकाने होंगे.

AdERP School Management Software

बता दें कि इसके लिए पहले उपभोक्ता को पहले 507.42 रुपये चुकाने होते थे. नई कीमतें आज से लागू हो गई हैं.

एलपीजी के दामों में ये कमी जून के बाद से करीब छह महीने की लगातार बढ़ोतरी के बाद दर्ज की गई है. कीमतों में इस गिरावट से पहले तक प्रति सिलेंडर दामों में 14.13 रुपये की बढ़ोतरी देखी गई.

सब्स‍िडी में मिलने वाले एलपीजी के सिलेंडर के दाम में पिछली बार 1 नवंबर को बढ़त देखी गई थी. इस दौरान प्रति सिलेंडर की 2.94 रुपये बढ़ाए गए थे. जिसमें सब्सिडीयुक्त LPG सिलिंडर का दाम 502.40 रुपये से बढ़कर 505.34 रुपये प्रति सिलेंडर हो गया था.

बता दें कि LPG उपभोक्ताओं को बाजार मूल्य पर रसोई गैस सिलेंडर खरीदना होता है. हालांकि, सरकार साल भर में 14.2 किलो वाले 12 सिलेंडरों पर सीधे ग्राहकों के बैंक खाते में सब्सिडी डालती है.

उल्लेखनीय है कि पिछले छह सप्ताह में पेट्रोल के दाम में 9.6 रुपये और डीजल में 7.56 रुपये लीटर की कटौती हुई है.

अंतरराष्ट्रीय कीमतों का असर से तय होते हैं एलपीजी के दाम

एलपीजी की औसत अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क दर और विदेशी मुद्रा विनिमय दर के मुताबिक एलपीजी सिलेंडर के दाम तय होते हैं. जिसके आधार पर सब्सिडी राशि में हर महीने बदलाव होता है. ऐसे में जब अंतरराष्ट्रीय कीमतें बढ़ती हैं तो सरकार अधिक सब्सिडी देती है और जब कीमतें कम होती है तो सब्सिडी में कटौती की जाती है.

टैक्स नियमों के मुताबिक, रसोई गैस पर जीएसटी ईंधन के बाजार भाव के आधार पर ही तय की जाती है. ऐसे में सरकार ईंधन की कीमत के एक हिस्से को तो सब्सिडी के तौर पर दे सकती है, लेकिन टैक्स का भुगतान बाजार दर पर ही करना होता है.

इसी के चलते बाजार मूल्य यानी बिना सब्सिडी वाले एलपीजी के दाम में गिरावट से सब्सिडी वाली रसोई गैस पर टैक्स गणना का प्रभाव कम होने से इसके दाम में कटौती हुई है.

कंपनी ने कहा कि दिल्ली में दिसंबर में 2018 में बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर का दाम 942.50 रुपये से कम होकर 809.50 रुपये रह गया. इसमें 133 रुपये की कमी आई है.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here