उत्तर भारत में बढ़ी ठंड, दिल्ली में आज 4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है तापमान

0

New Delhi/Atulya Loktantra : देश के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी (Snowfall) से मैदानी राज्यों में ठंड बढ़ गई है. जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में कई स्थानों पर पारा शून्य के नीचे चला गया जबकि उत्तरी राज्यों में दिसंबर की ठंड ने रंग दिखाना शुरू कर दिया है. मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक अभी अगले दो-तीन दिनों में उत्तर भारत में रात के तापमान (Temperature) में 3-5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आ सकती है.

मौसम विभाग के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और पड़ोसी राज्य पंजाब में ठंड का प्रकोप और बढ़ सकता है. वहीं हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तर पश्चिम राजस्थान में भी तापमान में गिरावट के साथ ठंड की स्थिति बनी रहेगी. तापमान गिरने से उत्तर भारत के अधिकतर इलाकों में कोहरे (Fog) का असर दिखाई दे रहा है. महाराष्ट्र में भी पहाड़ी राज्यों जैसा ठंड का अहसास हो रहा है.

मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर भारत के अधिकतर राज्यों के तापमान में दो-चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट आएगी. जबकि 16 से 18 दिसंबर के बीच तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे और लक्षद्वीप में बारिश होने की संभावना है.

दिल्ली के तापमान में गिरावट
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ठंड बढ़ गई है, साथ ही अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई. मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) के पूर्वानुमान के मुताबिक आज (15 दिसंबर 2020) को अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस पहुंच सकता है, जबकि न्यूनतम पारा 4 डिग्री तक लुढक सकता है.

उत्तर प्रदेश में भी ठंड एवं कोहरा का प्रकोप दिखाई दे रहा है. राज्य की राजधानी लखनऊ में सोमवार को न्यूतनम तापमान 10.9 डिग्री दर्ज किया गया जबकि इलाहाबाद में यह 15 डिग्री रहा. बरेली, अलीगढ़ और मुजफ्फरनगर में पारा 9.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है.

इसके अलावा पहाड़ी राज्यों की बात करें तो कश्मीर घाटी में ज्यादातर स्थानों पर रात का तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया. गुलमर्ग जम्मू कश्मीर का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां पारा शून्य से 9 डिग्री नीचे चला गया है. श्रीनगर में सोमवार को पारा शून्य से नीचे 1.4 डिग्री तक लुढक गया.इस बीच, हिमाचल प्रदेश के केलांग, कल्पा और मनाली में तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया.

 

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here