दिल्ली में मुर्गियों, अध्यापकों को बॉर्डर पर किया गया नियुक्त, विरोध शुरू

0

New Delhi/Atulya Loktantra News : राजधानी नई दिल्ली में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। शहर में तीनों नगर निगमों ने पोल्ट्री उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। दिल्ली सरकार ने लोगों से नहीं घबराने और अंडा तथा चिकेन को अच्छी तरह पकाकर खाने की सलाह दी है। हालातों पर काबू करने के लिए दिल्ली सरकार हर संभव उपाय कर रही है और इसी के तहत दिल्ली में सरकारी अध्यापकों की ड्यूटी शहर की सीमाओं पर लगाई गई है ताकि दूसरे राज्यों के दिल्ली में पोल्ट्री उत्पादों की एंट्री रोकी जा सके।

दिल्ली शहर में मुर्गे के प्रवेश की जांच करने के लिए दिल्ली की सीमाओं पर ड्यूटी पर सरकारी स्कूल के शिक्षकों को नियुक्त करने वाले एक आदेश ने शिक्षकों को परेशान कर दिया है। जिसके बाद से शिक्षक सवाल उठा रहे हैं कि उन्हें किस हद तक गैर शैक्षणिक कार्य के लिए नियुक्त किया जा सकता है।

राजस्व विभाग के उत्तर जिला कार्यालय के एक आदेश ने मंगलवार को सबोली, औचंदी, सफियाबाद, लामपुर और मुनीरपुर में दिल्ली की सीमाओं पर तैनात होने वाली पांच टीमों के निर्माण को रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रात की ड्यूटी पर अधिसूचित किया। इनमें से प्रत्येक टीम में दो नागरिक रक्षा स्वयंसेवक और एक सरकारी स्कूल शिक्षक शामिल हैं। इन टीमों को दिल्ली में चिकन के प्रवेश औऱ बिक्री को रोक के लिए लगाया गया है। शहर में किसी भी वाहन को बिना वैध पशु स्वास्थ्य प्रमाण पत्र के एंट्री पर रोक है।

बुधवार को दिल्ली के सरकार स्कूल टीचर्स के संगठन के जनरल सेक्रेटरी अजयवीर यादव ने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को पत्र लिख मामले में हस्तक्षेप करने को कहा। उन्होंने लिखा,”जब सरकार और नागरिकों को कोविड -19 की रोकथाम के लिए थी, तब शिक्षक समुदाय ने नि: स्वार्थ रूप से सेवा की थी, लेकिन अब राजस्व विभाग स्थिति का फायदा उठा रहा है और शिक्षकों को परेशान कर रहा है। पूरे शिक्षण समुदाय की ओर से और उनकी गरिमा की रक्षा करने के लिए, मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप शिक्षण समुदाय के ऐसे प्रतिनियुक्ति को रोकें और उन्हें उनके नामित कार्यों के लिए स्कूलों में वापस भेजे जाने की सुविधा प्रदान करें।” आपको बता दें कि दिल्ली में सरकारी स्कूल के शिक्षक की कोरोना संक्रमण फैलने के दौरान quarantine centres, राशन बांटने और कोरोना सर्वे और अब वैक्सीनेशन के काम में भी ड्यूटी लगाई गई है।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here