बयानबाजी जारी, कार्यकर्ताओं का इस्तीफा मात्र ढकोसला

0

Dabwali (Sirsa)/Atulya Loktantra : अजय और अभय चौटाला के रास्ते अलग-अलग हो जाने के बाद से दोनों भाइयों के बीच बयानबाजी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को अभय चौटाला ने कहा कि इनेलो पार्टी ने डबवाली हलके की पूरी जिम्मेदारी बड़े भाई-भाभी को सौंप दी थी, लेकिन भाई-भाभी ने अपनी जिम्मेदारी को सही ढंग से नहीं निभाया। इसलिए मुझे आज आप लोगों के बीच आना पड़ा है।

अभय सिंह ने कार्यकर्ताओं के समक्ष कहा कि कुछ लोगों ने मुझे गुंडा-बदमाश कहा है। ऐसे लोग जब चुनाव के समय आपके बीच आए तो उनकी तसल्ली करा देना। इनेलो कार्यकर्ताओं के इस्तीफे देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इनेलो कार्यकर्ताओं के इस्तीफा देने की बात ढकोसला है। उन्होंने पूछा कि डबवाली की विधायक खुद इस्तीफा क्यों नहीं देती। क्योंकि इस्तीफा देने से वेतन-भत्ते बंद हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी के सभी कार्यकर्ता एकजुट और मजबूत हैं।

बैठक में उन्होंने कहा कि जब वे एसवाईएल नहर के निर्माण के लिए प्रदेश में आंदोलन कर रहे थे, उसी समय कुछ लोग एक षडयंत्र के तहत पार्टी को कमजोर करने में लगे हुए थे। जब-जब इनेलो पार्टी प्रदेश में मजबूत हुई है, तब-तब कांग्रेस सहित कुछ अन्य पार्टियों ने इनेलो को कमजोर करने के लिए षडयंत्र रचा है, लेकिन अब इनेलो के कार्यकर्ता किसी के बहकावे में आने वाले नहीं है। पार्टी के कार्यकर्ता चट्टान की तरह मजबूत हैं।

चौटाला ने कार्यकर्ताओं से कहा कि इनेलो-बसपा की ओर से एक दिसंबर से कुरुक्षेत्र से जन अधिकार यात्रा आरंभ की जाएगी। उन्होंने यात्रा में पहुंचने का आह्वान करते हुए कहा कि इस यात्रा के माध्यम से केंद्र सरकार को एसवाईएल नहर निर्माण के संबंध में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले को लागू करने के लिए बाध्य किया जाएगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें