अयोध्या: 26 जनवरी से होगा मस्जिद निर्माण, गांव के लोगों में उत्साह

0
File Photo

Uttar Pardesh/Atulya Loktantra: सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ने अयोध्या के धन्नीपुर में बनने वाली मस्जिद का डिजाइन जारी कर दिया है. 26 जनवरी से मस्जिद का निर्माण होना है. अयोध्या के धन्नीपुर में बनने वाली इस मस्जिद की खास बात यह है कि इसमें कोई गुंबद नहीं होगा.

पांच एकड़ में बनने जा रही इस मस्जिद में, संग्रहालय, लाइब्रेरी और सामुदायिक किचन होगा. मस्जिद परिसर में 300 बेड की क्षमता वाला एक अस्पताल भी होगा. मस्जिद का डिजाइन प्रोफेसर एमएम अख्तर ने तैयार किया है. अख्तर जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में आर्किटेक्ट विभाग के प्रोफेसर हैं. मस्जिद के निर्माण को लेकर हुई बैठक में इस बात पर फैसला लिया गया कि मस्जिद का नाम किसी राजा के नाम पर नहीं रखा जाएगा.

सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा अधिग्रहित की गई 5 एकड़ जमीन पीर शाह गदा शाह नाम की एक दरगाह है जहां सभी धर्मों और संप्रदायों के लोग जाते हैं. धन्नीपुर के ग्राम प्रधान राकेश यादव ने कि गांव में इतनी बड़ी मस्जिद को लेकर लोग उत्सुक हैं.

यादव बताते हैं कि गांव की आबादी लगभग 1300 है. यहां लोगों ने हमेशा से आपसी सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखा है. मस्जिद परिसर में अस्पताल बनाने का फैसले से स्थानीय निवासियों को काफी मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि गांव में नई मस्जिद के साथ क्षेत्र में सभी के लिए विकास की नई संभावनाएं आएंगी. स्थानीय लोगों का भी यही मानना है कि इससे गांव का विकास होगा और यहां रह रहे लोगों के लिए अपार संभावनाएं बनेंगी.

धन्नीपुर गांव के पंडित मदन लाल का भी कुछ ऐसा ही कहना है. वो बताते हैं कि गांव हमेशा से शांतिपूर्ण रहा है और धार्मिक मान्यताओं पर कभी कोई विवाद नहीं हुआ. गांव के लोग मस्जिद निर्माण डिजाइन के निर्णय के बारे में जानकर खुश हैं और मस्जिद निर्माण का इंतजार कर रहे हैं.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here