अब पांचवीं-आठवीं की बोर्ड परीक्षा देने के लिए उम्र नहीं होगी दीवार

0

M.P/Atulyaloktantra News : मध्य प्रदेश में ओपन स्कूल से अब किसी भी उम्र में पांचवीं-आठवीं की बोर्ड परीक्षा दी जा सकती है। इसके लिए मप्र राज्य ओपन स्कूल परीक्षा लेकर सर्टिफिकेट जारी करेगा। परीक्षा अगले सत्र (2019-20) से होगी। केंद्र सरकार ने इसके लिए शिक्षा का अधिकार (आरटीई) अधिनियम में संशोधन कर दिया है।

आरटीई की धारा-30 के अनुसार किसी भी बच्चे को आठवीं कक्षा तक फेल नहीं किया जा सकता है, लेकिन अब इसमें संशोधन किया है। संशोधन के बाद परीक्षा को लेकर राज्य ओपन स्कूल ने तैयारियां पूरी कर ली है। पांचवी व आठवीं की परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाएगी। पहली परीक्षा जून में और दूसरी परीक्षा दिसंबर में होगी। इसमें पांचवीं के लिए 11 वर्ष से अधिक उम्र वाले अभ्यर्थी परीक्षा दे सकते हैं। वहीं, आठवीं के लिए 14 वर्ष से अधिक उम्र वाले परीक्षा में बैठ सकते हैं।

कई नौकरियों में आठवीं का प्रमाण पत्र आवश्यक
ऐसी कई निम्न वर्ग की नौकरियां हैं। जिनमें आठवीं तक की शैक्षणिक योग्यता के प्रमाणपत्र की आवश्यकता होती है। उनके लिए ओपन स्कूल से आठवीं का बोर्ड परीक्षा पास करना फायदेमंद होगा। साथ ही कई अभ्यर्थी नौकरी करने के कारण पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते हैं। वे भी अब परीक्षा दे सकते हैं। राज्य ओपन स्कूल के संचालक पीआर तिवारी का कहना है कि कुछ नौकरी के लिए अभ्यर्थी का आठवीं पास होना जरूरी रहता है। ऐसे अभ्यर्थी इन नौकरियों में आवेदन नहीं कर सकते थे, लेकिन अब ओपन स्कूल से आठवीं परीक्षा पास कर सकते हैं।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here