CIA अधिकारी का दावा- पुतिन ने दिया था US चुनाव में दखल का आदेश

0

New Delhi/Atulya Loktantra : अमेरिका में 2016 में हुए राष्ट्रपति चुनाव में रूस के दखल देने की बात कई बार सामने आती रही है. डेमोक्रेट्स की तरफ से रिपल्बिकन पार्टी पर अक्सर रूस की मदद लेने का आरोप लगता रहा है. इस बीच रूस में रहे अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA के एक अधिकारी ने दावा किया है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने ही अमेरिकी चुनाव में दखल का आदेश दिया था.

अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स से बात करते हुए पूर्व सीआईए अधिकारी ने कहा कि 2016 में सीआई के सभी अधिकारियों के रिकॉर्ड का रिव्यू करने का आदेश मिला था. जिस अधिकारी ने ये दावा किया है कि रूस में बतौर जासूस राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के करीबियों में से एक था, जो सीआईए के लिए काम कर रहा था.

2016 में जब अमेरिका में चुनाव हुए तो उसकी तरफ से CIA को इस बारे में रिपोर्ट भी दी गई. ना सिर्फ 2016 के अमेरिकी चुनाव बल्कि 2018 में हुए मध्यावधि चुनाव में भी रूस का हाथ था. सीआईए अधिकारी ने न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया कि जब उन्होंने रूस के दखल वाली बात CIA को बताई तो उसके बाद उनका करियर खत्म हो गया, क्योंकि बाद में उनसे कोई काम नहीं लिया गया.

2017 में इस मामले के खुलने के बाद सीआईए के इस अधिकारी को रूस से निकाल दिया गया. दावे के मुताबिक, व्लादिमीर पुतिन ने इस दखल के आदेश दिए थे. जिसमें रूस का मकसद डोनाल्ड ट्रंप को फायदा पहुंचाना था और बाद में ऐसा ही हुआ. डोनाल्ड ट्रंप को बड़ी जीत मिली, लेकिन डेमोक्रेट्स हार गए.

गौरतलब है कि जब से डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति का पद संभाला है, तभी से उनके रूस से चुनाव जीतने की बात सामने आती रही है. इसको लेकर अमेरिका में संसदीय कमेटी की जांच भी चल रही है, जिसकी अगुवाई रॉबर्ट मूलर कर रहे थे. हालांकि, कमेटी की रिपोर्ट में कहा गया था कि डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव में रूस की कोई मदद नहीं ली.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here