संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने शीतकालीन सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक

0
10

New Delhi/Atulya Loktantra : सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र से पहले आज रणनीति को लेकर सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई, जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी भी पहुंचे. इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह समेत विपक्ष के कई बड़े नेता बैठक का हिस्सा रहे. संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने शीतकालीन सत्र से पहले यह ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई थी. इस सर्वदलीय बैठक में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला को हिरासत में रखे जाने का मुद्दा भी उठा.

बैठक में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, लोकसभा में नेता विपक्ष और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी, राज्यसभा में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा शामिल हुए. इसके अलावा टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन, एलजेपी नेता चिराग पासवान, समाजवादी पार्टी नेता राम गोपाल यादव, तेलुगू देशम पार्टी नेता जयदेव गल्ला, वी विजयसाई रेड्डी भी बैठक का हिस्सा रहे. इसके अलावा राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने भी राज्य सभा के नेताओं की मीटिंग बुलाई है, जिसमें वह सदन को सुचारू रूप से चलाने की अपील करेंगे.

शिवसेना नहीं होगी शामिल
वहीं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने भी शनिवार को लोकसभा की कार्यवाही को लेकर ऐसी एक बैठक बुलाई थी. इसके अलावा बीजेपी की संसदीय एजुकेटिव की मीटिंग होगी. सहयोगी दलों में बेहतर को-आर्डिनेशन को लेकर एनडीए की मीटिंग बुलाई गई है. लेकिन इस बैठक में शिवसेना शामिल नहीं होगी. नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री रहे शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने कुछ दिनों पहले इस्तीफा दे दिया है. महाराष्ट्र में शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने की कोशिशों में लगी है.

गौरतलब है कि विपक्ष ने शनिवार को साफ कर दिया कि वह मंदी, बेरोजगारी और किसानों के मुद्दे के अलावा जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने और वहां की स्थिति के बारे में भी सरकार से सवाल करेगा. कांग्रेस गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने के मुद्दे को लेकर भी विपक्ष सरकार को घेरेगा

Previous Most Popular News Storiesफडणवीस ने बाल ठाकरे को किया याद, ट्वीट कर की तारीफ
Next Most Popular News Storiesअयोध्या केस : 5 मुस्लिम पक्षकार SC में दायर करेंगे रिव्यू पिटिशन
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here