DTC बस में महिला पत्रकार से छेड़छाड़, 8 के खिलाफ FIR

0
41

New Delhi/Atulya Loktantra : दिल्ली की डीटीसी बसों में महिलाओं को सुरक्षित रखने के लिए करीब दो साल पहले मार्शल की तैनाती की शुरुआत की गई थी. हालांकि अब ये प्रयास नाकाफी साबित हो रहे हैं. बुधवार रात करीब 8 बजे दिल्ली से सटे नोएडा में एक महिला पत्रकार ने दिल्ली जाने के लिए डीटीसी बस पकड़ी. महिला खचाखच भीड़ में खड़ी थी. अगले स्टॉप पर टिकट चेक करने वाले पांच डीटीसी कर्मचारी चढ़े.

महिला पत्रकार का आरोप है कि इन पांच कर्मचारियों में से एक टिकट चेकर ने टिकट मांगते समय उसे ग़लत तरीके से छुआ. इतना ही नहीं जब महिला ने विरोध किया तो टिकट चेकर ने धमकी भरे अंदाज में कहा, “मुझसे मत उलझ.”

जिसके बाद महिला पत्रकार ने ड्राइवर और कंडक्टर से बस का दरवाजा नहीं खोलने की अपील की, जिससे कि उसे सीधे पुलिस थाने पहुंचाया जा सके. लेकिन ड्राइवर ने गाड़ी रोक दी और कंडक्टर ने उसे बाहर निकलने दिया. इस दौरान महिला ने मार्शल से भी मदद मांगी लेकिन अत्यधिक भीड़ होने की वजह से जब तक मार्शल वहां पहुंचता आरोपी बाहर निकल चुके थे. जिसके बाद महिला पत्रकार ने कंडक्टर से कहा कि वो पुलिस से इस बात की शिकायत करेंगी, इसके जवाब में कंडक्टर ने कहा कि वो यहीं उतर जाएं और फिर जिससे कहना है कहें.

लेकिन महिला पत्रकार ने बहादुरी दिखाते हुए बस से उतरने से मना कर दिया. उसने ड्राइवर से कहा कि वो बस को नजदीकी पुलिस थाने ले चले. जिसके बाद बस 12/22 थाने पहुंची. लेकिन वहां शिकायत दर्ज करने के लिए कोई अधिकारी मौजूद नहीं था. जिसके बाद महिला पत्रकार ने नोएडा के एसएसपी को ट्वीट करके मामले की जानकारी दी.

ट्वीट के बाद यूपी पुलिस हरकत में आयी. हालांकि जब इस मामले को लेकर बस में मौजूद मार्शल से बात की तो उसने बताया कि पैसेंजर के साथ दुर्व्यवहार ना हो, ये सुनिश्चित करना उसका काम है. उसने कहा, ‘मेरा आज रूट नंबर 33 था, सेक्टर 43 से भजनपुरा तक. मैं बस में था. पीछे का दरवाजा खुला तो वो लोग पीछे के दरवाज़े से निकल गए. पीछे एक बटन लगा होता है जिस से कोई भी दरवाजा खोल सकता है. डीटीसी के कर्मचारी ने बदतमीजी की है. मेरे रूट रोज बदलते हैं. मेरे पास डंडा नहीं है. हमें इजाज़त नहीं है डंडे रखने की.’

फिलहाल पुलिस ने नोएडा सेक्टर- 24 थाने में पांच टिकट चेकर, मार्शल, ड्राइवर और कंडक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है, जिससे कि सभी पहलुओं की जांच की जा सके.

Previous Most Popular News Storiesशरद फाउंडेशन ने क्लोथ बैंकिंग स्कीम के तहत गरीब बच्चों में गरम कपड़े बांटे
Next Most Popular News StoriesJNU : हिंसा के खिलाफ थोड़ी देर में छात्रों का मार्च, पुलिस तैनात
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here