अटारी बॉर्डर पर करतार पुर कॉरिडोर के निर्माण को लेकर बैठक

0
86

नई दिल्ली/अतुल्यलोकतंत्र। भारत-पाकिस्तान के अधिकारी करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण कार्यों पर विचार-विमर्श करने के लिए आज अंतरराष्ट्रीय अटारी सीमा पर स्थित इंटिग्रेटेड चेक पोस्ट ICP पर बैठक हो रही है। सूत्रों की मानें तो इस बैठक में बिना पासपोर्ट करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए अनुमति दिए जाने पर भी चर्चा होगी।

इस बैठक में करतारपुर कॉरिडोर के तौर तरीकों को अंतिम रूम देने के लिए चर्चा हो रही है। एसजीपीसी सहित कई सिख संगठनों ने यह मांग उठाई है। करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण से सिखों का 70 साल का लंबा इंतजार खत्म होगा। भारत-पाकिस्तान के बढ़े हुए तनाव के बीच यह बैठक काफी अहम होगी। हालांकि यह बैठक सिर्फ करतारपुर कॉरिडोर तक ही सीमित रहेगी।

इसके अलावा भारतीय पक्ष पाकिस्तान में सिख धार्मिक स्थानों पर भारत-विरोधी और खालिस्तानी अगलाववादी दुष्प्रचार का भी मुद्दा उठाएगा। भारत सुनिश्चित करेगा कि पाकिस्तान करतारपुर गुरुद्वारे में अलगाववाद की गतिविधियों की इजाजत नहीं देगा। भारत की तरफ से इस दल में विदेश, सडक़ परिवहन, बीसएफ, राजमार्ग प्राधिकरण समेत कई मंत्रालयों के अधिकारी होंगे। भारतीय शिष्टमंडल की अगुवाई विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव दीपक मित्तल और गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव अनिल मलिक करेंगे।

वहीं पाकिस्तान शिष्टमंडल का नेतृत्व डायरेक्टर जनरल साउथ एशिया मोहम्मद फैसल करेंगे। पाकिस्तानी प्रतिनिधि मंडल गुरुवार सुबह वाघा सीमा से भारत में प्रवेश करेगा। बता दें कि पाकिस्तान शिष्टमंडल के एक सदस्य और दिल्ली स्थित पाकिस्तान दूतावास के डिप्टी हाई कमिश्नर सईद हैदर शाह देर शाम दिल्ली से अमृतसर पहुंचे गए।

बता दें, करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण की मांग भारत दो दशक से करता आ रहा है।

Previous Most Popular News Storiesराहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर साधा निशाना तो भाजपा ने किया पलटवार
Next Most Popular News Storiesलोकसभा चुनाव : अतीत में पाला बदल चुके पासवान व द्रमुक इस बार स्थिर
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here