क्या तांडव के मेकर्स होंगे गिरफ्तार? पूछताछ करने मुंबई पहुंची UP पुलिस

New Delhi/Atulya Loktantra : सैफ अली खान की सीरीज तांडव पर हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा है. सीरीज पर धार्म‍िक भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया जा रहा है. लेकिन बात बढ़ती जा रही है और अब 6 शहरों में एफआईआर दर्ज होने के बाद यूपी पुलिस मेकर्स से पूछताछ करने के लिए मुंबई पहुंच गई है.

तांडव के मेकर्स से होगी पूछताछ
लखनऊ के हजरतगंज से चार पुलिस अधिकारी मुंबई पहुंच गए हैं और वे डायरेक्टर अली अब्बास ज़फ़र, अमेजन की हेड अपर्णा पुरोहित, प्रोड्यूसर हिमांशु किशन मेहरा और लेखक गौरव सोलंकी से पूछताछ करने वाले हैं. इन सभी को इस मामले में आरोपी बनाया गया है. अब जिन धाराओं में ये मामला दर्ज किया गया है, ऐसे में गिरफ्तारी भी संभव बताई जा रही है. पुलिस की टीम बुधवार को ही तमाम आरोपियों से सवाल-जवाब करने वाली है.

जानिए पूरा विवाद
मालूम हो कि तांडव सीरीज का निर्देशन अली अब्बास जफर ने किया है. सीरीज में सैफ अली खान, जीशान आयूब,सुनील ग्रोवल, तिग्मांशु धूलिया जैसे कई बड़े सितारे काम कर रहे हैं. सबसे ज्यादा विवाद जीशान आयूब और उनके एक सीन को लेकर देखने को मिल रहा है. सीरीज के पहले ही एपिसोड में जिस अंदाज में जीशान भगवान शिव बन स्टेज से बयानबाजी कर रहे हैं, उससे संत समाज नाराज नजर आ रहा है. मेकर्स की तरफ से मांगी जरूर मांगी गई है, लेकिन गुस्सा शांत होता नहीं दिख रहा.

मेकर्स की माफी
वैसे इस विवाद के बाद से मेकर्स की तरफ से कई मौकों पर माफी मांगी गई है. खुद डायरेक्टर अली अब्बाज जफर ने सोशल मीडिया पर इस विवाद पर सफाई दी है. उन्होंने लिखा था- हमें पता चला कि वेबसीरीज के कुछ कंटेंट ने लोगों की भावनाओं को दुख पहुंचाया है. मैं बता दूं वेब सीरीज की कहानी पूरी तरह काल्‍पनिक है और हमारी टीम के किसी मेंबर का मकसद लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था. तांडव के कलाकार, क्रू और दर्शकों की चिंता को ध्यान में रखते हुए हम माफी मांगते हैं. वहीं एक दूसरे ट्वीट में अली ने ये भी स्पष्ट कर दिया था कि वे सूचना प्रसारण मंत्रालय से मामले पर बातचीत कर रही है और तमाम विवादों को खत्म किया जाएगा.

हटाए जाएंगे विवादित सीन
खबर ये भी है कि मेकर्स अब तांडव से हर विवादित सीन हटाने को तैयार हो गए हैं. मेकर्स ने साफ कर दिया है कि वे किसी की भी धार्मिक भावनाएं आहत करने का उदेश्य नहीं रखते हैं, ऐसे में अब वे उन सीन्स को हटाने को तैयार हैं जिन्हें लेकर काफी बवाल देखने को मिल रहा है. मेकर्स की तरफ सूचना प्रसारण मंत्रालय का भी आभार व्यक्त किया गया है. उनकी नजरों में मंत्रालय ने उन्हें सही दिशा दिखाई और लगातार सपोर्ट किया.

अब इस समय सभी की नजर पुलिस की कार्रवाई पर है. इसी पूछताछ पर निर्भर रहेगा कि तांडव के मेकर्स की मुसीबत बढ़ती है या फिर काम होती है. वैसे मामले तो और जगर भी चल रहे हैं, ऐसे में एक्शन अभी बढ़ता दिख सकता है.

 

Leave a Comment