कोरोना काल में तीन घंटे के लिए स्कूल खोलने की तैयारी, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी

0

Chandigarh/Atulya Loktantra News: कोरोना की वजह से मार्च में बंद हुए स्कूलों में 15 अक्टूबर से नियमित पढ़ाई शुरू होगी। नौवीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों की तीन घंटे कक्षाएं लगेंगी, जोकि सुबह 9 बजे शुरू होकर दोपहर 12 बजे तक चलेंगी। इस दौरान लंच ब्रेक नहीं होगा। बच्चे लंच घर जाकर ही करेंगे। अब अभिभावकों से बच्चों को लेकर उनकी अनुमति नहीं ली जाएगी। शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने बताया है कि विभागीय अधिकारियों ने स्कूल खोलने को लेकर होम वर्क पूरा कर लिया है, जिसमें बच्चों को संक्रमण से बचाना भी शामिल है। हर स्कूल को सैनिटाइज्ड किया गया है। स्कूल बच्चों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए अपने फंड से ही खर्च करेंगे। मंगलवार को अफसरों की बैठक में इस पर अंतिम फैसला होगा।

प्रदेश में नौवीं से 12वीं तक के 6 लाख 10 हजार स्टूडेंट्स सरकारी व इससे ज्यादा प्राइवेट स्कूलों में पढ़ रहे हैं। पिछले माह अभिभावकों से स्कूल खोलने को लेकर पूछा गया था तो 32 हजार बच्चों के परिजन ही इसके लिए सहमत हुए थे। इधर, नियमित स्कूल संचालित होने पर भी ऑनलाइन पढ़ाई भी जारी रहेगी, ताकि जो बच्चे स्कूल नहीं पहुंच पाएं, उन्हें परेशानी न आए।

यह जरूरी एहतियात बरते जाएंगे
हर कमरे में 20 विद्यार्थी से ज्यादा नहीं बैठाए जाएंगे।
किसी कक्षा में ज्यादा विद्यार्थी हैं, तो स्कूल में सेक्शन बढ़ाए जाएंगे, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके।
बच्चों के स्कूल में प्रवेश व बाहर निकलने पर भी उनमें जरूरी दूरी रखी जाएगी।
बच्चों को मास्क लगाकर ही स्कूल आना होगा। उनके हाथ सैनिटाइज्ड कराए जाएंगे। साथ ही उनकी थर्मल स्क्रीनिंग भी होगी।
एक से आठवीं तक की कक्षाओं पर अभी कोई विचार नहीं किया गया है। इनकी कक्षाएं नवंबर में खुल सकती हैं। इसी को लेकर विभाग अपनी प्लानिंग में जुटा है। हालांकि नवंबर में स्कूल कब खुलेंगे, यह तय नहीं है।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here