Monday, January 30, 2023
HomeEditorialआज टी वी पर चल रही डिबेट्स, कितनी सार्थक

आज टी वी पर चल रही डिबेट्स, कितनी सार्थक

पत्रकार दीपक शर्मा “शक्ति”की कलम से

आज लगभग सभी न्यूज़ चैनल्स पर चल रहे डिबेट के ट्रेंड पर प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया, शीर्ष पत्रकार प्रतिनिधियों और सरकार को संज्ञान में लेने की जरूरत है। डिबेट में इस्तेमाल की जाने वाली भाषा किसी से भी छुपी नहीं है फिर चाहे वो आम जनता हो या पत्रकार हो। बड़े दुःख की बात है कि टी वी चैनल की डिबेट में सवाल पूछ रहा पत्रकार स्वयं पत्रकार की भूमिका में नहीं होता।

यह मुद्दे को उठाने की बजाय उन दलों के प्रवक्ता के तौर पर दिखाई देते हैं जिनके प्रति इनकी निष्ठा होती है। पार्टी के लिए वफादारी का इस तरह राष्ट्रीय चैनल्स पर दिखना जहां पत्रकार की मर्यादा को गिराता है। वहीं सभी सैटेलाइट न्यूज चैनल की साख पर बट्टा लगा रहा है। आज आम आदमी यह समझ गया है कि टीवी पर आने वाली डिबेट उनके लिए कोई सार्थकता नहीं रखती है।

ऐसे डिबेट्स का सबसे ज्यादा असर देश के युवा पीढ़ी पर पड़ता है, जो कभी इन डिबेट्स को देखते हैं। ऐसे डिबेट्स युवाओं में सकारात्मक सोच विकसित करने की बजाए उन्हें हिंसक और नफरत की प्रवृति को बढ़ाने में सहायक हो रही है। आज युवा अपनी सोच का पूर्ण रूप से विकास नही कर पा रहे हैं।

मै स्वयं राजनीति, पत्रकारिता के क्षेत्र से लगभग दो दशकों से जुड़ा हूं। लेकिन आज पत्रकारिता के क्षेत्र में अा रही गिरावट से चिंतित हूँ। आखिर कहां जा रही है हमारी सोच। सभी प्रमुख दलों को अपने प्रवक्ताओं की सोच, भाषा शैली पर ध्यान देने की आवश्यकता है। वरना वो दिन दूर नहीं जब हम पूर्ण रूप से अराजक स्थिति में अा जाएंगे उसके बाद हम नहीं बच पाएंगे। आवश्यक है कि वक़्त रहते लोकतंत्र के सभी खंभों को दुरुस्त किया जाए ताकि हमारा लोकतंत्र
वास्तव में दुनिया का ” अतुल्य लोकतंत्र” बने।

                                                                          (लेखक वरिष्ठ पत्रकार एवं राजनीतिक विश्लेषक हैं)

                                         

 

Deepak Sharma
Deepak Sharma
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments